ग्लुटामाइन क्या है, इसके फायदे और उपयोग | Glutamine Uses in Hindi

Glutamine शब्द बहुत कम ही सुनने को मिलता है, लेकिन इस शब्द की महत्ता बहुत अधिक हैं। जो लोग जिम जाते है खासकर उन्हें इसके बारें में अधिक सुनने को मिलता हैं। और जो लोग जिम नहीं जाते उन्हें शायद इसके बारें किसी भी तरह को कोई जानकारी नहीं होती हैं। होगी भी कैसे ? क्योंकि, यह थोड़ा कम प्रचलित शब्द हैं।

Glutamine Uses in Hindi

व्हे प्रोटीन, क्रिएटिन, BCAA आदि सभी प्रचलित सप्लीमेंट हैं। इन सभी के बारें अधिकांश लोगो को जानकारी होती हैं। लेकिन ग्लूटामिन सप्लीमेंट के बारें में सभी लोग नहीं जानते है कि, आखिर यह क्या है और इसे क्यों इस्तेमाल किया जाता हैं।

ग्लुटामाइन पाउडर का इस्तेमाल मुख्यतः फिटनेस फ्रीक्स, एथलीट और बॉडीबिल्डिंग करने वाले लोगों द्वारा किया जाता हैं। यह हमारें बॉडी के लिए बहुत ही फायदेमंद होता हैं।

तो चलिए आज के इस आर्टिकल में हम जानेंगे कि ग्लुटामाइन क्या होता है, इससे क्या होता है, इसके फायदे (Glutamine Benefits in Hindi) और नुकसान क्या हैं। साथ ही साथ ग्लूटामाइन पाउडर के उपयोग (Glutamine Uses in Hindi) और इस्तेमाल के बारें में भी जानेंगे।

ग्लुटामाइन क्या होता है ? | Glutamine Meaning in Hindi

ग्लुटामाइन एक अल्फा-एमिनो एसिड है जो प्रोटीन के जैव-संश्लेषण (Biosynthesis) में उपयोग किया जाता हैं। यह 20 एमिनो एसिड्स में से एक महत्वपूर्ण एमिनो एसिड हैं।

यह एक गैर-जरूरी एमिनो एसिड (Non-Essential Amino Acid) हैं, इसका मतलब यह है कि आपकी बॉडी इसे संश्लेषित (Synthesis) करने में सक्षम होती हैं।

प्रायः इसका निर्माण आपकी बॉडी में होता हैं। इसलिए इसे Non-Essential अमीनो अम्ल की श्रेणी में रखा गया हैं। इसके अलावा ग्लूटामाइन को आप आहार स्त्रोतों के माध्यम से भी ले सकते हैं।

इसे फिटनेस या बॉडीबिल्डिंग सप्लीमेंट के रूप में सबसे ज्यादा उपयोग किया जाता हैं। प्राकृतिक रूप से यह आपके मसल्स में मौजूद होता हैं।

कई अन्य एमिनो एसिड की तरह ग्लूटामाइन भी दो अलग-अलग रूपों में मौजूद होता हैं।

  • L – Glutamine
  • D – Glutamine

यह दोनों लगभग समान ही है, लेकिन इनकी आण्विक व्यवस्था अलग हैं।

खाद्य पदार्थों और सप्लीमेंट में पाया जाने वाला रूप L – Glutamine हैं। कुछ सप्लीमेंट ब्रांड्स इसे L – Glutamine के नाम से सूचिबद्ध करते है लेकिन अन्य लोग सरल शब्दों में इसे Glutamine ही कहते हैं।

सीधी भाषा में एल-ग्लूटामाइन को ही Glutamine कहा जाता हैं।

ग्लुटामाइन से क्या होता है ? | What Happens When Take Glutamine in Hindi

ग्लूटामाइन एक एमिनो एसिड है, जिसका मुख्य उद्देश्य प्रोटीन के लिए बिल्डिंग ब्लॉक के रूप में सेवा करना हैं।

इससे आपकी प्रतिरक्षा प्रणाली और आंतों का स्वास्थ्य बेहतर होता है और यह आपके शरीर में नाइट्रोजन लेवल को संतुलित बनाए रखने में सहायक होता हैं।

यह भी पढ़ें – क्रिएटिन के फायदे और नुकसान

ग्लुटामाइन कैसे काम करता है ? | How Works Glutamine in Hindi

पाचन क्रिया के दौरान श्लेष्म झिल्ली (Mucous Membrane) बैक्टीरिया की घुसपैठ को रोकती है और यही पर Glutamine आपके इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने का काम करता हैं।

ग्लूटामाइन मांसपेशियों में उत्पन्न होता है और इसे रक्त द्वारा शरीर के विभिन्न अंगों तक पहुंचाया जाता हैं। यह आपके शरीर में एमिनो एसिड मेटाबोलिजम और नाइट्रोजन की मात्रा को बैलेंस करने का काम भी करता हैं।

यह वास्तव में प्रोटीन को संश्लेषित करने के लिए 35% से 40% नाइट्रोजन की आपूर्ति करता है और बदले में प्रोटीन संश्लेषण को बढ़ावा देता हैं।

यह भी पढ़ें – प्रोबायोटिक्स लेने के फायदे क्या है ?

ग्लुटामाइन के उपयोग | Glutamine Uses in Hindi

ग्लूटामाइन का उपयोग (Glutamine Uses in Hindi) मुख्यतः वर्कआउट करने वाले लोगों, बॉडीबिल्डर्स और एथेलीट द्वारा शारीरिक विकास के लिए किया जाता हैं।

इसका उपयोग आपके शरीर में कई अलग-अलग कोशिकाओं को ईंधन (Fuel) प्रदान करने के लिए किया जाता हैं। यह आपकी सभी मसल्स तक नाइट्रोजन और कार्बन को पहुचाने में उपयोगी होता हैं।

यह विशेष रूप से तनाव के समय आपकी बॉडी में प्रतिरक्षा प्रणाली, आंत कार्य और रक्त परिवहन आदि के लिए बहुत ही उपयोगी और महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं।

ग्लुटामाइन के फायदे | Glutamine Benefits in Hindi

यदि आप एक्सरसाइज या वर्कआउट करते है तो यह आपके लिए बहुत ही उपयोगी और फायदेमंद सप्लीमेंट होता हैं।

वैसे तो पर्याप्त मात्रा में ग्लूटामाइन का उत्पादन आपकी बॉडी ही कर लेती हैं। लेकिन फिटनेस या बॉडीबिल्डिंग गोल्स को प्राप्त करने के लिए इसका सीमित मात्रा में इस्तेमाल करना बहुत ही फायदेमंद होता हैं।

तो चलिए कुछ पॉइंट्स की मदद से Glutamine के फायदे (Glutamine Benefits in Hindi) जानते हैं।

(1) Glutamine से आपकी मसल्स ग्रोथ तेजी से होती है क्योंकि यह प्रोटीन संश्लेषण को बढ़ाता हैं।

(2) यह आपकी बॉडी में एमिनो एसिड्स की कमी को पूरा करता हैं।

(3) ग्लूटामाइन से इम्यून सिस्टम मजबूत होता है, जिसके फलस्वरूप आपकी बॉडी हमेशा स्वस्थ बनी रहती हैं।

(4) यह आपकी बॉडी में होने वाली नाइट्रोजन की कमी को पूरा करने में मदद करता हैं।

(5) Glutamine Supplement आपके बॉडी में होने वाले मसल्स डैमेज को रोकता है और मसल्स की रिकवरी में मदद करता हैं।

(6) यह ब्लड ग्लुकोज से ग्लाइकोजन बनाता है जिसके कारण आपकी बॉडी में एनर्जी प्रोडक्शन बढ़ता हैं।

(7) ग्लूटामाइन वर्कआउट के दौरान पर्याप्त ऊर्जा देने में सहायक होता है, जिसके कारण आपकी परफॉर्मेंस बढ़ती हैं।

(8) यह आपके घावों को तेजी से भरने और रिकवर करने में मदद करता हैं।

(9) इसके इस्तेमाल से आपकी बॉडी के ग्रोथ हॉर्मोन (GH) में वृद्धि होती हैं।

(10) कैंसर जैसी बीमारियों के इलाज में भी ग्लूटामाइन का उपयोग किया जाता हैं।

इसप्रकार सीमित मात्रा में इसका सेवन करने से आपको कई सारे फायदे मिलते हैं। यदि आप जिम जाते है तब तो आपको इसका इस्तेमाल करना ही चाहिए। ध्यान रहें, अधिक मात्रा में ग्लूटामाइन का सेवन हानिकारक हो सकता हैं।

यह भी पढ़ें – Raw Whey प्रोटीन क्या होता हैं, फायदे-नुकसान

ग्लुटामाइन के नुकसान | Glutamine Side Effects in Hindi

आपकी बॉडी के लिए एमिनो एसिड के रूप में L-Glutamine Supplement का सीमित मात्रा में इस्तेमाल करना बहुत ही फायदेमंद माना जाता हैं।

रीसर्च और विश्लेषण के आधार पर, जरूरत से ज्यादा और अधिक मात्रा में इसके सेवन से आपको बहुत से नुकसान हो सकते हैं और स्वास्थ्य संबंधित समस्याओं का सामना करना पड़ सकता हैं। ग्लूटामाइन लेने के नुकसान जैसे –

  • कमर दर्द
  • चक्कर आना
  • नींद में कठिनाई
  • बेहोशी
  • एकाएक कमजोरी आना
  • सिरदर्द
  • पेट की गैस
  • चेहरें, गर्दन और कान में गर्माहट महसूस होना

यह भी पढ़ें – बॉडी बनाने के लिए 5 बेस्ट सप्लीमेंट्स

ग्लुटामाइन कब लेना चाहिए ? | Best Time To Take Glutamine in Hindi

ग्लूटामाइन को वर्कआउट के दौरान, वर्कआउट के बाद और सोने से पहले लिया जा सकता हैं। वैसे तो आप इसे खाना खाने के 1 घण्टे पहले भी ले सकते हैं।

अब आपके दिमाग में यह सवाल जरूर आ रहा होगा कि इसे किसी भी समय पर लिया जा सकता है परन्तु इसे लेने का सबसे अच्छा समय क्या हैं।

अधिकांश विश्लेषणों के आधार पर, ग्लुटामिन कब लेना चाहिए और Glutamine सप्लीमेंट इस्तेमाल करने या लेने का सबसे सही समय – वर्कआउट के बाद होता हैं।

इसे लेने का यह सबसे उपयुक्त और अच्छा समय माना जाता हैं। इसलिए क्योंकि वर्कआउट के बाद आपके मसल्स को प्रोटीन और एमिनो एसिड की सबसे ज्यादा जरूरत होती हैं।

जो आपके मसल्स की रिकवरी और विकास में मदद करता हैं। ऐसे में एल-ग्लूटामाइन का इस्तेमाल करना सभी मायनों में लाभप्रद होता हैं।

इसके अलावा यदि आप इसे वर्कआउट के दौरान लेते है, तब भी यह बहुत अच्छा माना जाता हैं। कोशिश करे, वर्कआउट के बाद ही इसका सेवन करना चाहिए।

ग्लुटामाइन कैसे लेना चाहिए ? | Best Way To Take Glutamine in Hindi

ग्लूटामाइन को अपनी डाइट में शामिल करने के कई तरीके हैं। आप इसे पानी, जूस, दूध आदि के साथ अपने डाइट में जोड़ सकते हैं।

Glutamine कैसे लेना चाहिए, इसे लेने का सबसे अच्छा तरीका – पानी के साथ मिलाकर होता हैं। फिटनेस एक्सपर्ट्स और डॉक्टर्स भी इसे पानी के साथ लेने की सलाह देते हैं।

Glutamine पाउडर की पानी में मिक्सिबिलिटी बहुत ही अच्छी होती है और यह आसानी से पानी में घुल जाता है जिस कारण पानी में मिलाकर सेवन करना आसान हो जाता हैं।

आप इसे व्हेय प्रोटीन पाउडर के साथ मिक्स करके भी इस्तेमाल कर सकते हैं। ऐसा करने से यह और अधिक प्रभावी हो जाता हैं।

ध्यान रहें, जब भी आप ग्लूटामाइन पाउडर सप्लीमेंट का इस्तेमाल करते है तब आपको दिन में 3 से 4 लीटर पानी जरूर पीना चाहिए।

Direction Of Uses (ग्लुटामिन लेने का तरीका) – ग्लूटामाइन पाउडर बनाने वाले अधिकांश ब्रांड्स इसे डेली 5 ग्राम लेने की सलाह देते हैं। इसे प्रतिदिन 5 ग्राम लेना सबसे ज्यादा फायदेमंद होता हैं।

सभी ब्रांड्स इसकी Recommended Serving Size निर्धारित करते है, जो 1 स्कूप होता हैं। एक स्कूप सर्विंग साइज में आपको 5 से 6 ग्राम ग्लूटामाइन मिलता हैं।

आपको एक शेकर में 250 से 300 ML पानी लेना है और उसमे 1 स्कूप पाउडर को मिक्स कर लेना हैं। 15 से 20 सेकंड तक अच्छे से शेक करने के बाद धीरे-धीरे आपको इसका सेवन करना हैं।

ध्यान रहें, ग्लूटामाइन के सेवन के दिनों में आपको बहुत अच्छी डाइट फॉलो करना चाहिए जिससे आपको इसके बेहतर रिजल्ट्स देखने को मिलेंगे।

यह भी पढ़ें – Whey और Casein प्रोटीन में अंतर क्या हैं ?

ग्लुटामाइन वाले फूड | Glutamine Foods (Veg/Non-Veg) in Hindi

ग्लुटामिन स्वाभाविक रूप से विभिन्न प्रकार के फूड्स (खाद्य पदार्थों) में पाया जाता हैं। एक शोध से यह पता चला है कि, एक विशेष आहार में डेली 3 से 4 ग्राम ग्लुटामिन मौजूद होता है, लेकिन यह आपके विशेष आहार के आधार पर अलग-अलग हो सकता हैं। इसलिए क्योंकि सब लोग भिन्न-भिन्न प्रकार का खाना खाते हैं।

पशु उत्पादों मांस और अंडे आदि में ग्लुटामिन की मात्रा अधिक और उच्च होती हैं। इसलिए क्योंकि इनमें  प्रोटीन की मात्रा भी उच्च होती हैं।

वहीं पौधों या वेज आधारित उत्पादों में ग्लुटामिन की मात्रा अपेक्षाकृत कम होती हैं।

ऐसे फूड्स जिनमें Glutamine पाया जाता हैं। जैसे –

  • चिकन
  • बीफ
  • मछली
  • अंडे
  • दूध
  • डेरी प्रॉडक्ट्स
  • टोफू
  • दालें
  • फल्लियाँ
  • पत्तागोभी
  • चावल 

ग्लुटामाइन की कीमत | Glutamine Price in India 2021

हमारें यहां बहुत से ब्रांड्स ग्लुटामाइन सप्लीमेंट का निर्माण करते है और उन्हें आपके लिए अच्छी कीमत पर उपलब्ध करते हैं। ग्लुटामाइन पाउडर की कीमत लगभग 300 रुपये प्रति 100 ग्राम (3000 Rupees Per Kg) होती हैं।

इस कीमत पर आपको अच्छे से अच्छे ब्रांड्स के ग्लुटामाइन सप्लीमेंट मिल जाते हैं।  

निष्कर्ष – Glutamine सप्लीमेंट एक बहुत ही अच्छा एमिनो एसिड है जो मसल प्रोटीन बनाने में मदद करता है और इससे आपके मसल्स मजबूत होते हैं।

इसका सीमित मात्रा में सेवन करना बहुत ही फायदेमंद होता है और आवश्यकता से ज्यादा सेवन हानिकारक हो सकता हैं।

Hopefully, ग्लूटामाइन सप्लीमेंट क्या है, Benefits, Side Effects, Glutamine Uses in Hindi और इससे जुड़ी सभी जानकारी आपको सही और स्पष्टतः मिल गयी होगी। आप इस जानकारी को अपने दोस्तों के साथ Share जरूर करें।

यदि आपके कोई भी सवाल/सुझाव है तो नीचे Comment करके जरूर बताएं और साथ में यह भी बतायें कि यह पोस्ट आपको कैसी लगी। धन्यवाद !!!

Best Glutamine To Buy…

 

Share with your friends...

One comment

Leave a Reply