कार्डिओ एक्सरसाइज क्या होती है ? | Cardio Meaning in Hindi

कार्डिओ क्या होता है : किसी भी प्रकार की एक्सरसाइज करना हर उम्र के महिलाओं और पुरुषों के लिए बहुत ही अच्छा माना जाता हैं। फिर चाहें वह वाकिंग, जॉगिंग, रनिंग, साइकिलिंग या स्विमिंग ही क्यों न हो।

अधिकतर लोग फिट रहने के लिए कार्डिओ करना अधिक पसंद करते हैं। कुछ लोग Cardio करने के लिए जिम जाते है तो कुछ लोग घर पर या गार्डन आदि में जाकर कार्डिओ एक्सरसाइज करते हैं।

Cardio Meaning in Hindi

कार्डिओ वर्कआउट/एक्सररसाइज ऐसी गतिविधि है जिसे आप कहीं पर भी कर सकते है, जहां आपको उपयुक्त स्थान मिले आप कर सकते हैं। इसके लिए आपको थोड़ी बहुत कार्डिओ एक्सरसाइज की जानकारी भी होनी चाहिए।

अगर आपको कार्डिओ वर्कआउट की थोड़ी भी जानकारी है तो आप आसनी से अपने फिटनेस का ध्यान रख सकते हैं।

कार्डिओ करने के कई सारे लाभ या फायदे आदि हैं। जैसे – वजन कम करना, शारीरिक शक्ति बढ़ाना, कार्डिओ वैस्कुलर स्ट्रेंथ बढ़ाना, सहनशीलता बढ़ाना, मसल बिल्डिंग, फैट लॉस आदि।

इसके अलावा भी इसके शारीरिक और मानसिक रूप से बहुत सारे फायदे हैं। तो चलिए आज के इस पोस्ट में में हम जानेंगे कि, कार्डिओ का मतलब क्या होता है (Cardio Meaning in Hindi) और कार्डिओ करने से क्या होता है, इसके फायदे क्या हैं।

इसके साथ ही कार्डिओ एक्सरसाइज कैसे करते है, इसके उदाहरण और तरीको के बारें में भी जानेंगे।

कार्डिओ एक्सरसाइज क्या है ? | Cardio Meaning in Hindi

कार्डिओ को किसी भी प्रकार के व्यायाम/एक्सरसाइज के रूप में परिभाषित किया जा सकता है, जो दिल की धड़कन (Heart Beats) को बढ़ाता है और दिल धड़कने की दर (Rate) को लंबे समय तक बनाए रखता हैं।

ऐसी एक्सरसाइज, जो दिल धड़कने की दर (Heart Rates) और श्वसन दर (Breathing Rates) को बढ़ाती है तथा आपके कार्डिओ वैस्कुलर सिस्टम को चुनौतीपूर्ण बनाती है, कार्डिओ एक्सरसाइज कहलाती हैं।

जैसे-जैसे श्वसन दर बढ़ती है आपका हृदय और तेजी से धड़कने लगता है, जिससे आप और अधिक गहराई से सांस लेना शुरू करते हैं।

और इन सभी के फलस्वरूप आपके फेफड़े, दिल और संचार प्रणाली में बहुत सुधार आता हैं।

सीधी भाषा मे कार्डिओ एक्सरसाइज का मतलब ‘हॄदय से संबंधित व्यायाम’ होता हैं। कार्डिओ ट्रेनिंग ऐसी गतिविधि है जिसे आप कहीं पर भी कर सकते है, जहां आपको उपयुक्त स्थान मिले आप कर सकते हैं।

यह भी पढ़ें – बॉडीवेट ट्रेनिंग क्या है और कैसे करे ?

कार्डिओ एक्सरसाइज के उदाहरण | Best Cardio Exercises in Hindi

आपके पास कार्डिओ एक्सरसाइज के बहुत से उदाहरण हो सकते हैं। लेकिन आपको केवल यह ध्यान रखना है कि आप जिस भी एक्सरसाइज को कर रहे है, वह दिल और फेफड़ों को चुनौती देने वाली होनी चाहिए।

कार्डिओ ट्रेनिंग में तीव्रता को बरकरार रखना जरूरी होता हैं। इसके अलावा कार्डिओ ट्रेनिंग कम तीव्रता, मध्यम तीव्रता और अधिक तीव्रता की भी हो सकती हैं।

कार्डिओ ट्रेनिंग/एक्सरसाइज की जाने वाली कुछ ऐसी एक्सरसाइज के बारें में हम बात करने वाले है जिसे आप घर, गार्डन, जिम कही पर भी कर सकते हैं।

(1) रस्सी कूदना (Jump Rope)

यह ऐसी एक्सरसाइज है, जिसे आप कही भी बिना किसी परेशानी के कर सकते हैं। जम्प रोप एक्सरसाइज से बहुत कम समय मे श्वसन दर और हॄदय की गति को बढ़ाया जा सकता हैं।

जम्प रोप एक्सरसाइज से आपका कार्डियोवैस्कुलर सिस्टम मजबूत होता हैं। साथ ही साथ वजन घटाने के लिए रस्सी कूदना बहुत ही उपयोगी एक्सरसाइज होती हैं।

(2) नाचना (Dancing or Zumba)

डांस करना एक ऐसी एक्सरसाइज है जिसे करने में बहुत आनंद आता हैं। आनंद की अनुभूति के साथ-साथ डांस करने से हार्टबीट भी तेज हो जाती हैं।

जिसके कारण आपकी बॉडी में रक्त प्रवाह तेज हो जाता है और यह दिल को मजबूती प्रदान करता हैं। इसके अलावा जुम्बा भी एक प्रकार की कार्डिओ एक्सरसाइज ही होती है जो वजन घटाने और फिट रहने के लिए बेस्ट एक्सरसाइज मानी जाती हैं।

(3) दौड़ (Running)

कार्डिओ के लिए रनिंग करना सबसे बेस्ट एक्सरसाइज होती हैं। दौड़ने से आपके सम्पूर्ण शरीर का व्यायाम हो जाता हैं।

फिटनेस एक्सपर्ट भी हमेशा सलाह देते है कि, यदि आप प्रतिदिन 15 से 20 मिनट नॉर्मल या इंटेंस रनिंग करते है तो आप अपने फिटनेस को नेक्स्ट लेवल को तक ले जा सकते हैं।

(4) साइकिलिंग (Cycling)

यदि आप दौड़ना पसन्द नही करते है तो साइकिलिंग करना आपके लिए सबसे बेस्ट कार्डिओ एक्सरसाइज हो सकती हैं।

सायकिलिंग करने से सबसे अधिक प्रभाव आपके संचार प्रणाली और लोअर बॉडी पर पड़ता हैं। रोजाना 20 मिनट साइकिलिंग करके भी आप हमेशा फिट रह सकते हैं।

(5) तैराकी (Swimming)

यह थोड़ी कठिन एक्सरसाइज है, लेकिन यदि आपको तैराकी आती है तो यह सबसे अच्छी कार्डिओ एक्सरसाइज हैं।

स्विमिंग के दौरान अत्यधिक कैलोरी बर्न होती है और मेटाबोलिजम बढ़ता है, जिससे आपके कार्डियोवैस्कुलर सिस्टम को मजबूती मिलती हैं।

(6) बॉक्सिंग (Boxing)

यह भी बहुत उपयोगी कार्डिओ एक्सरसाइज हैं। बॉक्सिंग के दौरान आपको अलग-अलग तरह के मूव्स करने होते है जिसके कारण शरीर का हर एक अंग कार्यरत होता हैं।

जिसके फलस्वरूप अधिक कैलोरी बर्न होती है और बॉडी में ऊर्जा का संचार भी बढ़ता हैं।

(7) सीढ़िया चढ़ना-उतरना (Stair Climbing)

यह सबसे आसान एक्सरसाइज होती है, केवल इसमें आपको फोकस और नियंत्रण की जरूरत होती हैं।

स्टैर क्लाइम्बिंग करने से आपकी सहनशीलता और प्रदर्शन में वृद्धि होती हैं। इसके साथ ही यह एक्सरसाइज फैट लॉस करने में सबसे ज्यादा उपयोगी और फायदेमंद होती हैं।

(8) मनपसंद स्पोर्ट्स खेलना (Sports)

आप अपने मनपसंद खेल को खेलकर भी कार्डिओ एक्सरसाइज की अनुभूति कर सकते हैं। स्पोर्ट्स खेलना भी एक प्रकार का कार्डिओ होता हैं।

आप कार्डिओ के लिए ऐसा स्पोर्ट्स खेल सकते है जिसमें थोड़ी दौड़-भाग की जरूरत होती हैं।

(9) जंपिंग जैक (Jumping Jacks)

यह ऐसी एक्सरसाइज है, जिसमें बॉडी के हर पार्ट्स कार्यरत होते हैं। इसमें एक ही स्थान पर जम्प करते हुए हाथों और पैरों को मूवमेंट में लाना होता हैं।

जंपिंग जैक एक्सरसाइज में भी बहुत अधिक कैलोरी बर्न होती है और वजन कम करने के लिए रोजाना इस एक्सरसाइज को करना बहुत ही लाभदायक होता हैं।

कार्डिओ एक्सरसाइज के फायदे | Cardio Benefits in Hindi 

वैसे तो आपने उन लोगों को अक्सर कार्डिओ एक्सरसाइज करते हुए देखा होगा, जिनका वजन बहुत ज्यादा होता हैं। हालांकि, वजन कम करने के लिए कार्डिओ करना बहुत अच्छा होता हैं।

इसके साथ ही मसल बिल्डिंग करने और अच्छी फिटनेस पाने के लिए भी कार्डिओ वर्कआउट करना बहुत फायदेमंद होता हैं। इसके अलावा भी बहुत से फायदे है जो कार्डिओ ट्रेनिंग करने से मिलते हैं। कार्डिओ करने के फायदे जैसे –

(1) दिल को स्वस्थ और सक्रिय बनाने में मदद

(2) संचार और प्रवाह प्रणाली को बेहतर करने में सहायक

(3) फेफड़ों को स्वस्थ बनाए रखने में मददगार

(4) तनाव और चिंता को कम करने में सहायक

(5) डिप्रेशन दूर करने में सहायक

(6) मेटाबोलिजम बढ़ाने में हेल्पफुल

(7) वेट लॉस और फैट लॉस करने में सहायक

(8) अधिक कैलोरी बर्न करने में सहायक

(9) परफॉर्मेंस और सहनशीलता बढ़ाने में सहायक

(10) मसल बिल्डिंग में हेल्पफुल

(11) इम्यून सिस्टम को मजबूत बनाने में सहायक

(13) हड्डियों और जॉइंट्स को मजबूत बनाने में मददगार

(14) अच्छी नींद लाने में सहायक

(15) मूड को बेहतर बनाने में हेल्पफुल

(16) कार्डिओवैस्क्युलर स्ट्रेंथ बढ़ाने में सहायक 

कार्डिओ करने के नुकसान | Side Effects Of More Cardio in Hindi

हालांकि, कार्डिओ करने से किसी भी प्रकार के नुकसान नही होते हैं। लेकिन आवश्यकता से अधिक और गलत तरीके से कार्डिओ एक्सरसाइज करना नुकसानदायक हो सकता हैं।

किसी भी चीज को गलत ढंग या फिर जरूरत से ज्यादा करने पर उसके दुष्परिणाम देखने को मिलते हैं। ठीक उसी प्रकार अत्यधिक कार्डिओ करने से शरीर को नुकसान हो सकते हैं। अधिक कार्डिओ करने के नुकसान जैसे –

  • शरीर मे कमजोरी आना
  • बॉडी में थकान महसूस होना
  • शरीर मे पानी की कमी होना
  • पूरे शरीर मे दर्द की स्थिति बने रहना
  • मसल्स में दर्द होना
  • जॉइंट्स और हड्डियों में दर्द होना
  • पेट दर्द और सिर दर्द होना
  • इंज्यूरी की संभावना
  • मसल्स की ग्रोथ न होना
  • मसल लॉस होना

कार्डिओ से जुड़े कुछ सवाल-जवाब (FAQs) –

Question : कार्डिओ करने का सबसे बेस्ट टाइम क्या होता हैं ?

Answer : यह सवाल बहुत बार पूछा जाता हैं। कार्डिओ करने का सबसे अच्छा समय सुबह का होता है, क्योंकि इस समय हवा एकदम फ्रेश होती है और वायुमण्डल में ऑक्सीजन की मात्रा बहुत अधिक होती हैं। जिसके कारण आपको कार्डिओ करने में कोई परेशानी नहीं होती हैं। 

Question : वेट ट्रेनिंग करने से पहले कितनी देर कार्डिओ करना चाहिए ?

Answer : वेट ट्रेनिंग से पहले 10 से 15 मिनट कार्डिओ करना सबसे बेहतर माना जाता हैं। यदि आप इससे ज्यादा कार्डिओ करते है तो वेट ट्रेनिंग के दौरान आपके परफॉरमेंस में कमी आ सकती हैं।

Question : वेट ट्रेनिंग के बाद कितनी देर कार्डिओ करना चाहिए ?

Answer : यदि आप वजन कम करना चाहते है तो आपको कैलोरी बर्न करने के हिसाब से कार्डिओ करना चाहिए। वेट ट्रेनिंग के बाद कितनी देर कार्डिओ करना चाहिए यह आपके ऊपर निर्भर करता है कि आपको कितनी देर में कितनी कैलोरी बर्न करनी हैं। यदि आप मसल बिल्ड करना चाहते है और आपका वजन सामान्य है तो आप 5 से 10 मिनट कार्डिओ कर सकते है जो आपके मसल बिल्डिंग में मदद करता हैं।

Question : सबसे अच्छी कार्डिओ एक्सरसाइज कौनसी होती हैं ?

Answer : रनिंग करना या ट्रेडमिल पर भागना सबसे बेस्ट कार्डिओ एक्सरसाइज या वर्कआउट माना जाता हैं।

Question : कार्डिओ के बाद क्या क्या पीना चाहिए ?

Answer : कार्डिओ एक्सरसाइज करने के बाद आपको 20 से 25 मिनट के भीतर व्हे प्रोटीन या मिल्क शेक या जूस लेना चाहिए। यह आपके मसल्स की रिकवरी के लिए बहुत जरुरी होते हैं। ध्यान रहें, कार्डिओ करने के तुरंत बाद ही किसी भी पेय या ड्रिंक को नहीं लेना चाहिए। 

Question : कार्डिओ के कितनी देर बाद नहाना चाहिए ?

Answer : कार्डिओ एक्सरसाइज पूरी होने के बाद आपको 15 से 20 मिनट रेस्ट लेना चाहिए और बॉडी को थोड़ा कूल डाउन होने देना चाहिए , उसके बाद आप गुनगुने पानी से नहा सकते सकते हैं।

Question : कार्डिओ करने के बाद क्या खाना चाहिए ?

Answer : कार्डिओ करने के 30 मिनट बाद आपको प्रोटीन वाले फूड खाना चाहिए और उसके 1 घंटे बाद आप बड़ी मील (Heavy Meal) भी आसानी से ले सकते हैं। 

Final Words – कार्डिओ एक्सरसाइज करने से बॉडी की कार्डिओ वैस्कुलर स्ट्रेंथ बढ़ने के साथ-साथ ओवरऑल बॉडी फिटनेस भी बेहतर बनता हैं। कार्डिओ करना हर महिला और पुरुष के लिए फायदेमंद होता हैं। यह तनाव, चिंता, डिप्रेशन, भय आदि को दूर करने में भी हेल्प करता हैं।  

इसके अतिरिक्त अतिरिक्त फैट को कम करने, वजन घटाने, मसल्स बिल्ड करने आदि के लिए भी कार्डिओ एक्सरसाइज करना लाभदायक होता हैं। आप नियमित रूप से कार्डिओ को अपनी रूटीन में शामिल करके मनचाहे अच्छे फिटनेस को प्राप्त कर सकते हैं। 

उम्मीद है, कार्डिओ क्या होता है (Cardio Exercise Meaning in Hindi) यह आर्टिकल आपके लिए बेहद महत्वपूर्ण रहा होगा। यदि जानकारी पसंद आयी है, तो आप इसे अपने दोस्तों के साथ Share जरूर करें और ऐसी ही महत्वपूर्ण जानकारी के लिए हमारें ब्लॉग वेबसाइट ASH-FIT-X (Ashfitx.com) से जुड़ें रहें। 

Other Articles :

Share with your friends...

You may also like...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *