Fitness

एमिनो एसिड क्या है – इसके फायदे और नुकसान | Amino Acid Meaning, Benefits in Hindi

अच्छी बॉडी बनाने के लिए डाइट और एक्सरसाइज के साथ-साथ सप्लीमेंट्स की भी जरूरत होती हैं। जरूरी नही है कि सभी प्रकार के सप्लीमेंट्स का इस्तेमाल करने से ही बॉडी बनती है या अच्छी फिटनेस बनती हैं।

जिन पोषक तत्वों को आप डाइट से नही ले सकते, उसकी जरूरत को पूरा करने के लिए आप सप्लीमेंट्स का इस्तेमाल कर सकते हैं।

Amino Acid in Hindi

हालांकि, मसल बिल्डिंग और वजन कम करने के लिए व्हे प्रोटीन को सबसे अच्छा सप्लीमेंट माना जाता हैं। इसके साथ ही जब आप अच्छी मस्क्युलर बॉडी बनाना चाहते है तब क्रेटीन, ग्लूटामिन, BCAA जैसे सप्लीमेंट का इस्तेमाल करना भी जरूरी होता हैं।

इन्ही सप्लीमेंट्स में एमिनो एसिड भी एक ऐसा सप्लीमेंट होता है जो आपके फिटनेस को बेहतर बनाने और मसल बिल्डिंग में बहुत महत्वपूर्ण भूमिका निभाता हैं।

बॉडी में विटामिन और मिनेरल्स की तरह एमिनो एसिड की भी बहुत जरूरत होती है जो आपकी मसल ग्रोथ और नए मसल्स के निर्माण में मदद करता हैं।

फिर भी अधिकांश लोगों को एमिनो एसिड के बारे में जानकारी नही होती हैं। तो चलिए जानते है इसके बारें में कि एमिनो एसिड क्या है, इसके फायदे, नुकसान और उपयोग आदि क्या हैं।

एमिनो एसिड क्या है ? | Amino Acid Meaning in Hindi

अमीनो अम्ल, यह प्रोटीन के निर्माण खण्ड होते है और इनसे मिलकर ही प्रोटीन का निर्माण होता हैं। प्रोटीन पचने के बाद एमिनो एसिड के रूप में परिवर्तित हो जाता है जो हमारें ऊतकों, कोशिकाओं और मसल्स में पहुचकर उन्हें पोषण प्रदान करता हैं।

प्रोटीन का पाचन होने के बाद जो अंतिम उत्पाद बनता है, वही एमिनो एसिड कहलाता हैं।

यह हमारें शरीर में मांसपेशियों मसल्स के निर्माण, मसल डैमेज की मरम्मत और इम्यून सिस्टम को समायोजित करने में सहायता करता हैं।

एमिनो एसिड के प्रकार | Amino Acid Types in Hindi

एमिनो एसिड मुख्यतः दो प्रकार के होते है, जो हमारें बॉडी फंक्शनिंग को बेहतर बनाने में मदद करते हैं। जैसे – जरूरी एमिनो एसिड और गैर-जरूरी एमिनो एसिड्स

हालांकि, हमारी बॉडी में कुल 21 तरह के एमिनो एसिड्स होते हैं। इनमें से 9 जरूरी एमिनो एसिड्स होते है और 12 गैर-जरूरी होते हैं।

(1) जरूरी एमिनो एसिड (EAAs) –

जरूरी एमिनो एसिड्स का मतलब, इनका निर्माण हमारी बॉडी में नहीं होता है, लेकिन शारीरिक कार्यों के लिए इसकी बहुत जरूरत होती हैं। इसलिए इन्हें फूड या सप्लीमेंट्स के माध्यम से लिया जाता हैं।

Essential Amino Acids

  • ल्युसिन (Leucine)
  • आईसोल्युसिन (Isoleucine)
  • वेलीन (Valine)
  • लाईसिन (Lysine)
  • हिस्टीडीन (Histidine)
  • मेथियोनाइन (Methionine)
  • थ्रीओनाइन (Threonine)
  • फेनिलअलनाइन (Phenylalanine)
  • ट्रायप्टोफैन (Tryptophan)

(2) गैर-जरूरी एमिनो एसिड्स (N-EAAs)

गैर-जरूरी एमिनो एसिड्स का मतलब, इनका निर्माण हमारी बॉडी में ही होता हैं। इसके अलावा चाहें तो हम इन्हें फूड या सप्लीमेंट्स से भी ले सकते हैं।

Non-Essential Amino Acids

  • ग्लूटामिन (Glutamine)
  • आर्जिनिन (Arginine)
  • एलनीन (Alanine)
  • एसपैराजिन (Asparagine)
  • ग्लायसिन(Glycine)
  • प्रोलिन (Proline)
  • सेरिन (Serine)
  • टायरोसिन (Tyrosine)
  • सिस्टीन (Cysteine)
  • एस्पार्टिक एसिड (Aspartic Acid)
  • ग्लूटामिक एसिड (Glutamic Acid)

यह एमिनो एसिड के प्रकार होते हैं। इन्हीं में कुछ कंडीशनल एमिनो एसिड होते है जो बीमारी और तनाव जैसी समस्याओं के दौरान जरूरी होते हैं। जैसे – ग्लूटामिन, आर्जिनिन, सिस्टीन, टायरोसिन, ग्लायसिन, प्रोलिन, सेरिन और ओरनीथिन।

Ornithine (ओरनीथिन) को फ्री एमिनो एसिड कहा जाता है और यह हमारी बॉडी में ही बनता हैं।

इनमें से ल्युसिन, आईसोल्युसिन और वेलीन तीन ऐसे एमिनो एसिड होते है जो हमारी बॉडी के लिए बहुत आवश्यक होते हैं। इन तीनों से मिलकर BCAA बनता हैं।

एमिनो एसिड के उपयोग | Amino Acid Uses in Hindi

वैसे तो गैर-जरूरी एमिनो एसिड लेने की आवश्यकता होती नही है, लेकिन जरूरी एमिनो एसिड को लेना बहुत ही आवश्यक होता हैं। इसलिए क्योंकि यह हमारें बॉडी में बहुत ही महत्वपूर्ण रोल प्ले करते है और बहुत उपयोगी होते हैं। जैसे –

(1) यह बिल्डिंग ब्लॉक के रूप में काम करते है और मांसपेशियों की ग्रोथ के लिए उपयोगी होते हैं।
(2) यह बाडी में एनर्जी प्रोडक्शन करने के लिए सहायक होते हैं।
(3) इम्यून सिस्टम के कार्यों को बेहतर बनाने के लिए मदद करते हैं।
(4) पोषक तत्वों के पाचन और अवशोषण में मदद करते हैं।
(5) प्रोटीन संश्लेषण के लिए उपयोगी होते हैं।

एमिनो एसिड के फायदे | Amino Acid Benefits in Hindi

फूड या सप्लीमेंट के माध्यम से एमिनो एसिड लेना हमारी बॉडी के लिए बहुत ज्यादा फायदेमंद और उपयोगी होते हैं। इसे लेने के अनेक फायदे हैं। जैसे –

(1) अधिकतम मसल रिकवरी में मदद करता हैं

(2) परफॉर्मेंस और फोकस बढ़ाने में हेल्प करता हैं

(3) प्रोटीन सिंथेसिस को बढ़ाता हैं

(4) स्टैमिना और सहनशीलता बढ़ाने में सहायक होता हैं

(5) घावों को जल्द भरने में मदद करता हैं

(6) मसल ग्रोथ में हेल्प करता है

(7) मसल्स के दर्द को कम करता हैं

(8) इम्यून सिस्टम को मजबूत करने में सहायता करता हैं

(9) मसल लॉस को रोकता हैं

(10) वजन और फैट कम करने में मदद करता हैं

(11) उत्तेजना और मूड को बढ़ाने में मदद करता हैं

(12) थकान को दूर करने में सहायक होता हैं

इसप्रकार सीमित मात्रा में एमिनो एसिड का इस्तेमाल करके आप इसका अच्छी तरह लाभ ले सकते हैं। इसका आवश्यकता से अधिक मात्रा में सेवन करना हानिकारक हो सकता हैं।

एमिनो एसिड के नुकसान | Amino Acid Side Effects in Hindi

इसे अधिक मात्रा में लेने से आपको कुछ स्वास्थ्य समस्याओं का सामना करना पड़ सकता हैं। हालांकि, सीमित मात्रा में सेवन करने से कोई भी हानि नहीं होती हैं।

कुछ ऐसे एमिनो एसिड होते है जिसके गलत सेवन या अधिक मात्रा में सेवन करने से आपके बॉडी पर नकारात्मक प्रभाव पड़ सकता हैं।

एमिनो एसिड को सप्लीमेंट के रूप में अधिक मात्रा में लेने के कुछ नुकसान जैसे –

  • चिंता
  • दिल की धड़कन तेज होना
  • पेट दर्द
  • डायरिया
  • उल्टियां होना
  • सिरदर्द
  • हाई ब्लड प्रेशर
  • स्किन व्हाइटनिंग

एमिनो एसिड वाले फूड | Amino Acid Food in Hindi

इन्हें आप सप्लीमेंट्स के साथ-साथ खाद्य पदार्थों से भी ले सकते हैं। नेचुरल फूड्स में भी एमिनो एसिड भरपूर मात्रा में मौजूद होता हैं।

आप इन्हें शाकाहार और मांसाहार दोनों प्रकार के फूड्स खाकर प्राप्त कर सकते हैं।

एमिनो एसिड वाले मांसाहारी फूड्स –

  • चिकन
  • मीट
  • लीन बीफ
  • मछली
  • अंडे

एमिनो एसिड वाले शाकाहारी फूड्स –

  • मूंगफली
  • सोयाबीन
  • किडनी बीन्स
  • दालें
  • साबूत अनाज
  • ब्राउन राइस
  • बीज
  • चने
  • हरी सब्जियां
  • पत्तागोभी
  • ब्रोकली
  • एवोकैडो
  • ड्राई फ्रूट्स

एमिनो एसिड कब लेना चाहिए ? | Best Time To Take Amino Acid in Hindi

इसे आप वर्कआउट के पहले, वर्कआउट के दौरान और वर्कआउट ले बाद तीनों समय पर ले सकते हैं। अधिकांश एमिनो एसिड पाउडर को वर्कआउट के दौरान लेना सबसे ज्यादा फायदेमंद माना जाता हैं।

इसलिए क्योंकि, वर्कआउट के समय यह आपके मसल ब्रेकडाउन को रोकता है और मसल्स को फ्यूल अप करके उन्हें रिकवर करता हैं।

एमिनो एसिड कैसे लेना चाहिए ? | How To Take Amino Acid in Hindi

इसे पानी के साथ मिक्स करके आसानी से लिया जा सकता हैं। इसे इस्तेमाल करने के लिए इसकी 1 सर्विंग को (5 से 10 ग्राम पाउडर को) 200 ml पानी में मिक्स करके और थोड़ी देर शेक करके आप इसे Consume कर सकते हैं।

एमिनो एसिड को पानी के साथ लेना ही सबसे बेहतर माना जाता हैं। इसलिए क्योंकि पानी में यह अच्छी तरह मिक्स हो जाता है और इसका Absorption भी फास्ट होता हैं।

Final Words : एमिनो एसिड को सप्लीमेंट के माध्यम से लेना वर्कआउट करने वले लोगो के लिए बहुत ही फायदेमंद हो सकता है, लेकिन इसका सेवन फिटनेस एक्सपर्ट की सलाह पर किया जाना बेहद जरुरी हैं। यदि आप नियमित रूप से वर्कआउट या किसी भी प्रकार की फिजिकल एक्टिविटी नहीं करते है, तो आपको इसे अलग से लेने की बिल्कुल भी आवश्यकता नहीं हैं।

उम्मीद है, एमिनो एसिड क्या है यह आर्टिकल आपके लिए काफी उपयोगी रहा होगा। यदि जानकारी पसंद आयी है तो आप इसे अपने जरूरतमंद दोस्तों के साथ जरूर Share करें। 

Other Articles :

Share with your friends...

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button